Tuesday, October 27, 2020

अपराध

महिला चिकित्सक दिशा के आरोपियों का हुआ एनकाउंटर, देश में जश्न

तेलंगाना के हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के चारों आरोपियों को पुलिस ने शुक्रवार सुबह मुठभेड़ में ढेर कर दिया। हालांकि कुछ लोग इस पर सवाल खड़े कर रहे...

इन पांच बातों का ध्यान रखते तो प्रद्यूमन की जान नहीं जाती

ओमवीर सिंह की खबर दिल्ली से shwet news के लिए गुरुग्राम के 'रेयान इंटरनेशनल स्कूल' में शुक्रवार को हुई दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्यूमन ठाकुर की हत्या के मामले में स्कूल की लापरवाही सामने आई...

हनीप्रीत से मिलने को बेचैन हे डेरा प्रमुख

हनीप्रीत बाबा की हर छोटी-बड़ी जरूरत का ख्याल रखती थी और बाबा के साथ फिल्में भी करती थी। गाने भी लिखती थी और सार्वजनिक कार्यक्रमों में साए की तरह मौजूद रहती थी। उसी हनीप्रीत...

Breaking News

शहला मसूद हत्याकांड मे जाहिदा परवेज और सबा फारुकी को हाइकोर्ट से जमानत मिली. ये दोनों लम्बे समय से इंदौर जेल में बंद थी और लगातार ज़मानत का प्रयास कर रही थी।

एलआईसी ने डलवाया अपने एजेंट और अफसरों के घर में सीबीआई का छापा

भोपाल। मप्र की राजधानी भोपाल में मंगलवार को एलआईसी में काम करने वाले अफसर व एजेंटों के आफिसों सहित 11 ठिकानों पर सेंट्रल ब्यूरो आफ इन्वेस्टीगेशन (सीबीआई) ने छापेमारी की है। इसके साथ सीबीआई ने लाइफ इंश्योरेंस कार्पोरेशन के एमपी नगर जोन 2 स्थित ब्रांच नंबर 4 में रेड डाली। सीबीआई के एक सीनियर अफसर जो इस छापा कार्रवाई से जुड़े थे ने बताया कि फर्जी लाइफ और हाउसिंग इंश्योरेंस पॉलिसियों के मेच्योरिटी पैसे को लेकर करोड़ों के भ्रष्टाचार से संबंधित यह छापे मारे गए हैं। एक वेबसाइट के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार एलआईसी ने ही इसकी शिकायत सीबीआई में की और इसी शिकायत के आधार पर सीबीआई ने छापे मारे हैं। एक जानकारी के मुताबिक यह छापे भोपाल में ग्यारह स्थानों पर मारे गए हैं। इनमें एमपी नगर जोन एक और बीएचईएल पिपलानी ब्रांच शामिल हैं। इनके अलावा चार अधिकारियों के घरों और प्रमुख एजेंटों के यहां भी छापा मारा गया हैं। इनमें असिस्टेंट ग्रेड वन प्रद्यूमन सिंह भदौरिया का घर भी शामिल है। इसके साथ मैकमैन मोटर्स के डायरेक्टर के दफ्तर और घर पर भी इसी सिलसिले में छापे पड़े हैं। सूत्रों के अनुसार एलआईसी एमपी नगर ब्रांच में पदस्थ प्रद्यूमन सिंह असिस्टेंट ग्रेड वन ने कुछ अफसरों से मिली भगत कर मैकमैन मोटर्स के संचालक के खाते में फर्जी तरीके से लगभग ढाई करोड़ रूपए ट्रांसफर कर दिए थे। इसकी जानकारी जब एलआईसी के वरिष्ठ अधिकारियों को मिली तो उन्होंने इसकी सूचना एलआईसी की विजिलेंस टीम को दी। विजीलेंस टीम ने सीबीआई के पास एक शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद यह छापामार कार्रवाई हुई। जांच के दौरान ही एलआईसी के खाते से फर्जी तरीके से ट्रांसफर किए गए ढाई करोड़ रूपए मैकमैन मोटर्स के डायरेक्टर ने वापस कर दिए थे। माना जा रहा है एलआईसी अधिकारियों और एजेंटों की मिली भगत से फर्जी तरीके से उद्योगपतियों के खातों में पैसों का ट्रांसफर करा दिया जाता है। जिसकी जांच सीबीआई कर रही है।

भोपाल बन रहा, अपहरण का नया जोन

आज फिर एक युवक अपहरण के बाद नादरा बस स्टेंड पर बेहोशी के हालत में मिला। ये अपहरण कही और हुआ और भोपाल में इसका खात्मा हुआ। अब तक अपहरण की वारदातें केवल बिहार और...

महिला के साथ गैंग रेप

महिला के साथ गैंग रेप। 4 लोगो पर आरोप.पति के साथ खैरखेड़ा गाव के देव स्थल पर प्रसाद चढाने गई थी महिला.बैरसिया के लहारपुर गाव के जंगल में हुआ महिला के साथ गैंग रेप.तहसील...