मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 13 अक्टूबर को प्रात: 10.30 बजे भोपाल स्थित मिंटो हॉल में आदिम-जाति कल्याण विभाग और स्कूल शिक्षा विभाग के 497 करोड़ 70 लाख रुपये की लागत से नव-निर्मित 145 शैक्षिक भवनों का वर्चुअल लोकार्पण करेंगे। लोकार्पण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, आदिम-जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह उमरिया से और स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इंदर सिंह परमार शामिल होंगे।

प्रदेश के जिन नव-निर्मित शैक्षिक भवनों का लोकार्पण होगा, उनमें आदिम-जाति कल्याण विभाग के 357 करोड़ 9 लाख रुपये लागत के 13 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों (कन्या शिक्षा परिसरों), 4 करोड़ 63 लाख रुपये के 3 छात्रावास के नवीन भवनों और स्कूल शिक्षा विभाग के 135 करोड़ 98 लाख रुपये लागत के 129 हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शाला भवनों का भी लोकार्पण होगा। लोकार्पित होने वाली सभी शैक्षणिक अधोसंरचनाएँ चुनाव अप्रभावित जिलों की हैं। जिन जिलों में विधानसभा उप निर्वाचन है, वहाँ के निर्माण कार्य इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हैं।

मुख्यमंत्री करेंगे हितग्राहियों से संवाद

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान भोपाल, शाजापुर और उमरिया जिले के हितग्राहियों और जन-प्रतिनिधियों से शैक्षणिक सुविधाओं के संबंध में संवाद भी करेंगे।

आदिम-जाति कल्याण विभाग के लोकार्पित होने वाले 13 कन्या शिक्षा परिसरों में जन-जातीय वर्ग के 6 हजार 370 बालिकाओं और 3 छात्रावास भवनों में 150 छात्रों को बेहतर आवासीय सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के नव-निर्मित 129 हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल 26 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर निर्मित हैं। इन शाला भवनों के निर्माण से करीब 21 हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इन शालाओं के लिये शीघ्र ही फर्नीचर की व्यवस्था भी की जा रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 13 अक्टूबर को प्रात: 10.30 बजे भोपाल स्थित मिंटो हॉल में आदिम-जाति कल्याण विभाग और स्कूल शिक्षा विभाग के 497 करोड़ 70 लाख रुपये की लागत से नव-निर्मित 145 शैक्षिक भवनों का वर्चुअल लोकार्पण करेंगे। लोकार्पण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, आदिम-जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह उमरिया से और स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इंदर सिंह परमार शामिल होंगे।

प्रदेश के जिन नव-निर्मित शैक्षिक भवनों का लोकार्पण होगा, उनमें आदिम-जाति कल्याण विभाग के 357 करोड़ 9 लाख रुपये लागत के 13 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों (कन्या शिक्षा परिसरों), 4 करोड़ 63 लाख रुपये के 3 छात्रावास के नवीन भवनों और स्कूल शिक्षा विभाग के 135 करोड़ 98 लाख रुपये लागत के 129 हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शाला भवनों का भी लोकार्पण होगा। लोकार्पित होने वाली सभी शैक्षणिक अधोसंरचनाएँ चुनाव अप्रभावित जिलों की हैं। जिन जिलों में विधानसभा उप निर्वाचन है, वहाँ के निर्माण कार्य इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हैं।

मुख्यमंत्री करेंगे हितग्राहियों से संवाद

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान भोपाल, शाजापुर और उमरिया जिले के हितग्राहियों और जन-प्रतिनिधियों से शैक्षणिक सुविधाओं के संबंध में संवाद भी करेंगे।

आदिम-जाति कल्याण विभाग के लोकार्पित होने वाले 13 कन्या शिक्षा परिसरों में जन-जातीय वर्ग के 6 हजार 370 बालिकाओं और 3 छात्रावास भवनों में 150 छात्रों को बेहतर आवासीय सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के नव-निर्मित 129 हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल 26 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर निर्मित हैं। इन शाला भवनों के निर्माण से करीब 21 हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इन शालाओं के लिये शीघ्र ही फर्नीचर की व्यवस्था भी की जा रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 13 अक्टूबर को प्रात: 10.30 बजे भोपाल स्थित मिंटो हॉल में आदिम-जाति कल्याण विभाग और स्कूल शिक्षा विभाग के 497 करोड़ 70 लाख रुपये की लागत से नव-निर्मित 145 शैक्षिक भवनों का वर्चुअल लोकार्पण करेंगे। लोकार्पण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, आदिम-जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह उमरिया से और स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इंदर सिंह परमार शामिल होंगे।

प्रदेश के जिन नव-निर्मित शैक्षिक भवनों का लोकार्पण होगा, उनमें आदिम-जाति कल्याण विभाग के 357 करोड़ 9 लाख रुपये लागत के 13 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों (कन्या शिक्षा परिसरों), 4 करोड़ 63 लाख रुपये के 3 छात्रावास के नवीन भवनों और स्कूल शिक्षा विभाग के 135 करोड़ 98 लाख रुपये लागत के 129 हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शाला भवनों का भी लोकार्पण होगा। लोकार्पित होने वाली सभी शैक्षणिक अधोसंरचनाएँ चुनाव अप्रभावित जिलों की हैं। जिन जिलों में विधानसभा उप निर्वाचन है, वहाँ के निर्माण कार्य इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हैं।

मुख्यमंत्री करेंगे हितग्राहियों से संवाद

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान भोपाल, शाजापुर और उमरिया जिले के हितग्राहियों और जन-प्रतिनिधियों से शैक्षणिक सुविधाओं के संबंध में संवाद भी करेंगे।

आदिम-जाति कल्याण विभाग के लोकार्पित होने वाले 13 कन्या शिक्षा परिसरों में जन-जातीय वर्ग के 6 हजार 370 बालिकाओं और 3 छात्रावास भवनों में 150 छात्रों को बेहतर आवासीय सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के नव-निर्मित 129 हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल 26 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर निर्मित हैं। इन शाला भवनों के निर्माण से करीब 21 हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इन शालाओं के लिये शीघ्र ही फर्नीचर की व्यवस्था भी की जा रही है।

LEAVE A REPLY