इन्दौर प्रशासन एवं पुलिस द्वारा नगर निगम के सहयोग से हिस्ट्री शीटर रमेश तोमर द्वारा किये गये अवैध निर्माण को तोड़ा गया। गोम्मटगिरी में कम्प्यूटर बाबा द्वारा क़ब्ज़ायी गई जिस ज़मीन से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई थी, वहाँ पर एक लग्ज़री क्रिस्टा गाड़ी भी बरामद हुई थी। छानबीन करने पर यह बात निकलकर आयी है कि यह गाड़ी हिस्ट्री शीटर रमेश तोमर के नाम से रजिस्टर्ड है। इसका उपयोग कम्प्यूटर बाबा द्वारा किया जाता था। ए.डी.एम. अजयदेव शर्मा से प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ रमेश तोमर पर लगभग 19 मामले दर्ज हैं। रमेश तोमर के विरुद्ध थाना संयोगितागंज पर मारपीट, गाली-गलौज बलवा करना, जान से मारने की धमकी देना, तोड़-फोड़ करना, विद्युत चोरी, शासकीय कर्मचारी पर हमला, धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार करना, अवैध कब्जा करना, शराब रखना आदि के मामले दर्ज हैं।

निगम ने 6 मकान किए ध्वस्त, 3 मोबाइल टावर भी हटवाए जा रहे हैं

मंगलवार को ‍अत्रिक्रमण तोड़ने की कार्यवाही के दौरान ए.डी.एम. अजयदेव शर्मा, अपर आयुक्त नगर निगम देवेन्द्र सिंह, उपायुक्त श्रीमती लता अग्रवाल तथा बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

नगर निगम के अमले ने मूसाखेड़ी के पास इदरीश नगर में बड़ी कार्यवाई करते हुए कम्प्यूटर बाबा के सहयोगी रमेश तोमर के छह मकान एक गार्डन को 2 घंटे की कार्यवाई में जमींदोज कर दिया। नगर निगम की उपायुक्त और रिमूवल विभाग की प्रभारी श्रीमती लता अग्रवाल ने बताया कि यहां पांच मकान अवैध रूप से बनाए गए थे, एक मकान निर्माणाधीन था। वहीं एक गार्डन पर बने हुए शेड आदि को भी तोड़ा गया है। तोमर को नगर निगम ने पहले ही अवैध निर्माण हटाने का नोटिस जारी किया था। श्रीमती अग्रवाल ने बताया कि रमेश तोमर के यहां लगे हुए तीन मोबाइल टावरों को भी हटाने की कार्यवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस पूरी कार्रवाई में चार पोकलेन और चार जेसीबी मशीन लगाई गई।

LEAVE A REPLY